Breaking News
recent

मधुमेह रोगियों के लिए आहार योजना


मधुमेह रोगियों को संतुलित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट लेना चाहिए।
मधुमेह रोगियों को रक्त में शर्करा के स्तर की निगरानी करनी चाहिए।
शर्करा का स्तर सामान्य रखने के लिए उचित आहार का चुनाव करें।
कम सूचकांक वाले कार्बोहाइड्रेट ग्‍लाईसेमिक खाद्य पदार्थों को चुनें।
आपको यह जानकार आश्चर्य हो सकता है कि ऐसा कोई आहार नहीं होता जिसे सिर्फ मधुमेह आहार कहा जाये। जो आहार मधुमेह के रोगियों के लिए अच्छा होता है वह आहार सबके लिए अच्छा होता है। इसलिए अगर आप मधुमेह के मरीज हैं तो जो आहार आपके लिए बताया गया है वही आहार आपका पूरा परिवार खा सकता है। लेकिन प्रत्येक बार भोजन करते समय आप इस मामले में सावधान रहे कि आप कार्बोहाइड्रेट की कितनी मात्रा ले रहे हैं।
मधुमेह आहार
आहार के प्रमुख घटकों में कार्बोहाइड्रेट, वसा और प्रोटीन शामिल होता हैं। इनमें से कार्बोहाइड्रेट का आपके रक्त शर्करा के स्तर पर बहुत प्रभाव पड़ता है। इसलिए मधुमेह से पीड़ि‍त व्‍यक्ति को हमेशा संतुलित मात्रा में ही कार्बोहाइड्रेट लेना चाहिए। लेकिन साथ ही साथ प्रोटीन, फैट एवं कैलोरी की मात्रा पर भी नजर रखनी चाहिए।
रक्त में शर्करा के स्तर की निगरानी
मधुमेह रोगियों के लिए, अपने रक्त में शर्करा के स्तर की निगरानी करना, बहुत ही महत्वपूर्ण है। आपके रक्त में शर्करा का स्तर सामान्य रहे इसके लिए आप उचित आहार का चुनाव करें, सही अनुपात में कैलोरीज लें, नियमित रूप से व्यायाम करें तथा निर्देशित दवा को लेना न भूलें।
आहार विशेषज्ञ से सलाह
आवश्यकता हो तो किसी आहार विशेषज्ञ से सलाह लें जो आपके लिए उचित आहार निर्धारित करें। मधुमेह रोगियों के स्वस्थ आहार और उचित पोषण के मुख्य उद्देश्य में - रक्तचाप को सामान्य के करीब रखना, रक्त में शर्करा को नियंत्रित रखना तथा कोलेस्ट्रॉल के स्तर को सामान्य रखना शामिल होना चाहिए।
मधुमेह रोगियों के लिए आहार
मधुमेह और ग्लाईसेमिक सूचकांक
मधुमेह रोगियों के लिए खाद्य पदार्थों के ग्लाईसेमिक सूचकांक को इसलिए विकसित किया जाता है, ताकी मधुमेह रोगियों में रक्त शर्करा के स्तर पर नियंत्रण रखा जा सके। ग्लाईसेमिक सूचकांक (जीआई) रक्त में शर्करा की वृद्धि को आहार के 50 ग्राम भाग के साथ नापता है (शुद्ध ग्लूकोज और सफेद रोटी की तुलना में)। आपका शरीर सभी कार्बोहाइड्रेट को पचाकर उसे ग्लूकोज में परिवर्तित कर देता है जिसकी वजह से आपके रक्त में अस्थाई रूप से ग्लूकोज में बढ़ोतरी होती है या यूं कह सकते है कि अस्थायी ग्लाईसेमिक प्रतिक्रिया होती है। ग्लाईसेमिक प्रतिक्रिया में इस बात से बहुत फर्क पड़ता है कि आपने कितना खाना खाया है; आपका खाना कैसे पकाया गया था; आपके भोजन के प्रसंस्करण की डिग्री कैसी है इत्यादि।
ग्लाईसेमिक सूचकांक के आंकडे
सभी खाद्य पदार्थ जो खून में शर्करा की वृद्धि का कारण बनते हैं उन्हें एक सूचकांक दे दिया जाता है जो 1 से 100 संख्या तक होता है, और 100 संख्या नियंत्रित (या शुद्ध ग्लूकोज) के लिए संदर्भ आंकडे है। ऐसे खाद्य पदार्थ, जिनका ग्लाईसेमिक सूचकांक 70 से अधिक होता है उनका मूल्यांकन उच्च, तथा 56 से 69 के बीच वाले मध्‍यम तथा 55 से कम वाले का निम्न माने जाते हैं। ऐसे खाद्य पदार्थ, जिनका ग्लाईसेमिक सूचकांक कम होता है, वे भोजन के बाद आपके शरीर में रक्त शर्करा को कम बढ़ाते हैं। जबकि जिन खाद्य पदार्थों से आपका ग्लाईसेमिक सूचकांक बढ़ जाता है, वे शरीर में रक्त शर्करा को तेजी से बढ़ाते हैं तथा ऐसा खाना खाने के बाद आपको बहुत जल्द भूख लग जाती है। रक्त शर्करा में तेजी से वृद्धि आना मधुमेह के रोगियों के लिए चिंता का विषय है, क्योंकि उनका शरीर बढे हुए शर्करा का उपयोग नहीं कर सकता जो ढेरों परेशानियों को जन्म देता है।
मधुमेह रोगियों के लिए कम कार्बोंहाइड्रेट आहार
कम कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थ
मधुमेह के रोगियों को इस बात के लिए प्रोत्साहित किया जाता है कि वह कार्बोहाइड्रेट वाले ऐसे खाद्य पदार्थ को चुनें जिनका ग्लाईसेमिक सूचकांक कम हो। इस तरह के खाद्य पदार्थ आम तौर पर ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक होते हैं क्योंकि इनमें विटामिन, मिनरल, फाइबर इत्यादि होते हैं एवं ये कम परिष्कृत होते हैं जैसे कि फल, हरी सब्जियां, सेम इत्यादि। इनके अलावा कम ग्लाईसेमिक सूचकांक वाले खाद्य पदार्थ आपका वजन कम करते हैं क्योंकि फैट से आपको बचाते हैं।
अगर जरूरत हो तो आप अपने चिकित्सक या आहार विशेषज्ञ (डाईटिशियन) से सलाह ले सकते हैं जो आपको कम ग्लाईसेमिक सूचकांक आहार के बारे में बतलायेंगे ताकि आपके शरीर में रक्त शर्करा की मात्रा और वजन ज्‍यादा न बढें।

By Pooja Sinha , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग

No comments:

Theme images by merrymoonmary. Powered by Blogger.