Breaking News
recent

अब Knee रिप्लेसमेंट कराना हुआ सस्‍ता, 56,490 रुपए से ज्‍यादा नहीं हो सकती डिवाइस की कीमत

Agency: अब घुटने के मरीजों को नी रिप्लेसमेंट सर्जरी (घुटना प्रत्यारोपण) के लिए अधिक कीमत नहीं चुकानी होगी। सरकार ने नी इंप्लांट की अधिकतम कीमत 56490 रुपए तय कर दी है। अभी तक मरीजों को इस सर्जरी के लिए 1.5 लाख रुपए तक चुकाने पड़ रहे थे। कुल 15 तरीके के नी इम्प्लांट की कीमतों को फिर से रिवाइज किया गया है। फार्मा रेग्युलेटर एनपीपीए ने अपनी वेबसाइट पर इस बात की जानकारी दी है।
केमिकल एंड फर्टिलाइजर मिनिस्टर अनंत कुमार कहना है कि एनपीपीए द्वारा नी इम्प्लांट पर की गई कैपिंग का फैसला तुरंत प्रभाव से लागू हो जाएगा। उनका कहना है कि सरकार के इस फैसले से मरीजों के 1500 करोड़ रुपए की बचत होगी। बता दें कि इसके पहले एनपीपीए द्वारा हार्ट सर्जरी में इस्तेमाल होने वाले स्टेंट की कीमतों को भी प्राइस कंट्रोल के दायरे में लाया गया था। इसके लिए जहां पहले मरीजों को 1.5 से 2 लाख रुपए देने पड़ रहे थे, अब अधिकतम कीमत 47 हजार रुपए कर दी गई थी। 

असल में ऐसी शिकायतें मिली थीं कि नी रिप्लेसमेंट सर्जरी के लिए अभी अभी अस्पताल, इंपोर्टर्स और डिस्ट्रीब्यूटर आपस में मिलकर 449 परसेंट तक मुनाफा कमा रहे हैं। जानकारी के अनुसार इस सर्जरी में इस्तेमाल होने वाले इम्प्लांट के इंपोर्टर्स को करीब 76 परसेंट तक फायदा होता है। जबकि, इसमें डिस्ट्रीब्यूटर को 100 परसेंट से ज्यादा और अन्य मार्जिन के रूप में करीब 102 परसेंट तक फायदा होता है। इन सबका बोझ मरीजों पर डाल दिया जाता है।

No comments:

Theme images by merrymoonmary. Powered by Blogger.